Lucknow To Ayodhya Distance

Lucknow To Ayodhya : अयोध्या में घूमने की जगहें

Lucknow To Ayodhya Distance : लखनऊ से अयोध्या की दूरी लगभग 135 किलोमीटर है, आप 2-3 घंटे में आराम से अयोध्या पहुँच सकते हैं. चाहे आप सड़क मार्ग से अयोध्या जाइये या ट्रेन से दोनों मार्ग से दुरी लगभग समान है।


अयोध्या (Ayodhya), भगवान राम की जन्मभूमि के रूप में विख्यात सरयू नदी के तट पर बसा भारत का एक प्राचीन शहर है। रामलला के दर्शन करने के लिए अयोध्या में हर साल लाखों श्रद्धालु आते हैं। अगर हम बात करें अयोध्या के इतिहास की तो अयोध्या का इतिहास हजारों साल पुराना है। माना जाता है कि यह शहर त्रेता युग में सबसे समृद्ध और शक्तिशाली राज्यों में से एक था। रामायण के अनुसार, अयोध्या भगवान राम के पिता, राजा दशरथ की राजधानी थी।

Lucknow To Ayodhya Distance By Road :

via NH 272 hr 22 min (134.9 km)
via Purvanchal Expy and NH330A2 hr 39 min (154.6 km)
via Purvanchal Expy and NH 272 hr 48 min (150.8 km)

लखनऊ से कैसे पहुंचे अयोध्या : अगर आप लखनऊ (Lucknow) से अयोध्या जाना चाहते हैं तो आप विभिन्न साधनों का उपयोग कर सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • Car (कार) : अगर आप कार ड्राइव के शौकीन हैं तो आप अपनी कार से ही अपने परिवार के साथ यात्रा कर सकते हैं। आप अपनी गति से यात्रा कर सकते हैं और रास्ते में विभिन्न स्थानों पर रुक सकते हैं। लखनऊ से अयोध्या तक जाने में कार से लगभग 2 घंटे 45 मिनट लगते हैं।
  • Train (ट्रेन) : अगर आप आरामदायक यात्रा करना चाहते हैं तो ट्रेन यात्रा आपके लिए एक अच्छा विकल्प है। लखनऊ से अयोध्या के लिए कई ट्रेनें चलती हैं, जिनमें से कुछ सीधी भी हैं। ट्रेन से यात्रा करने में लगभग 2 घंटे 30 मिनट लगते हैं।
  • Bus (बस) :अगर आप बस से यात्रा करना चाहते हैं तो आप सरकारी बस या प्राइवेट बस से अपनी यात्रा कर सकते है। अगर रास्ते में ट्रैफिक जाम मिल गया तो आपको थोड़ा टाइम लग सकता है। लखनऊ से अयोध्या के लिए कई बसें चलती हैं, जो आपको लगभग 3 घंटे में अयोध्या धाम पहुँचा सकते हैं।
From YouTube : Atul Sehwag Vlogs

Best Places To Visit In Ayodhya :

भगवान राम की नगरी अयोध्या, प्राचीन संस्कृति और आध्यात्मिकता का केंद्र है। यहां कई मंदिर, घाट और ऐतिहासिक स्थल स्थित हैं, जो हर साल लाखों श्रद्धालुओं को आकर्षित करते हैं। अगर आप पहली बार अयोध्या धाम घूमने जा रहे हैं तो इन जगहों पर अपने परिवार और दोस्तों के साथ जरूर जायें।

हनुमान गढ़ी: भगवान हनुमान को समर्पित, यह मंदिर अयोध्या का सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है। हनुमान गढ़ी का निर्माण एक किले की तरह हुआ है यहाँ पहुँचने के लिए आपको 76 सीढ़ियाँ चढ़नी पड़ती हैं। यह अयोध्या के सबसे सम्मानित स्थानों में से एक माना जाता है।

hanumaan-ghari ayodhya

श्री नागेश्वरनाथ मंदिर: भगवान शिव को समर्पित, यह मंदिर अपनी भव्य वास्तुकला के लिए जाना जाता है। ऐसा माना जाता है कि भगवान राम के पुत्र कुश ने भगवान नागेशवरनाथ जी को समर्पित करते हुए इस सुंदर मंदिर का निर्माण करवाया था।

Shri-Nageshwarnath-Temple Ayodhya

कनक भवन: माता सीता का निवास स्थान, जो अपनी सुंदरता और कलाकारी के लिए प्रसिद्ध है। यहाँ सीता माता तथा भगवान राम के साथ उनके तीनों भ्राताओं की मूर्तियां अत्यंत सुंदर प्रतीत होती हैं। इस मंदिर का निर्माण मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ की रानी वृषभानु कुंवरि, ने 1891 में करवाया था।

Kanak Bhawan Ayodhya

तुलसी स्मारक भवन: गोस्वामी तुलसीदास की स्मृति में बना, यह संग्रहालय उनके जीवन और कृतियों को समर्पित है। तुलसी स्मारक सभागार में प्रतिदिन 6:00 बजे अपराहन से लेकर 9:00 बजे अपराहन तक रामलीला का मंचन किया जाता है जो एक प्रमुख आकर्षण है ।

Tulsi-Smarak-Bhawan-ayodhya

त्रेता के ठाकुर: भगवान राम को समर्पित, यह मंदिर अपनी प्राचीनता और धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है। इनको काले राम के मंदिर के नाम से भी जाना जाता है, ऐसा माना जाता है कि इसी सुंदर मंदिर में भगवान राम ने अश्वमेध यज्ञ किया था |

Treta Ke thakur Ayodhya

अयोध्या में जैन मंदिर: अयोध्या में कई जैन मंदिर हैं, जो जैन धर्म के इतिहास और संस्कृति को दर्शाते हैं। रानीगंज क्षेत्र में एक विशाल जैन मंदिर स्थापित है, इसमें प्रथम तीर्थांकर भगवान आदिनाथ (ऋषभदेवजी) की 21 फुट ऊंची प्रतिमा विशेष रूप से स्थापित है |

Jain mandir ayodhya

मणि पर्वत: यह एक पवित्र पहाड़ी है। ऐसा विश्वास किया जाता है कि जब लक्ष्मण जी घायल हुए थे तब हनुमान जी लक्ष्मण जी के उपचार के लिए संजीवनी बूटी के साथ विशाल पर्वत को उठा कर ला रहे थे, तो रास्ते में इसका कुछ भाग गिर गया |

Mani-Parvat-Ayodhya

छोटी देवकाली मंदिर: देवी काली को समर्पित, यह मंदिर अपनी शक्ति और भव्यता के लिए जाना जाता है। किवदंतियों के अनुसार, माता सीता अयोध्या में भगवान राम के साथ अपने विवाहोपरांत देवी गिरिजा की मूर्ति के साथ आयीं थीं | 

Chhoti-Devkali-Temple-Ayodhya

राम की पैड़ी: सरयू नदी के किनारे स्थित, यह घाट अपनी धार्मिक महत्व और सुंदरता के लिए जाना जाता है। यहाँ हरे भरे बगीचे भी हैं जो मंदिरों से घिरे हैं |

Ram-ki-Paidi-ayodhya

सरयू नदी: अयोध्या से होकर बहने वाली, यह नदी हिंदुओं के लिए पवित्र मानी जाती है। विभिन्न धार्मिक अवसरों पर यहाँ सहस्रों श्रद्धालु वर्ष भर इस नदी में आस्था की डुबकी लगाने के लिए आते हैं |

saryu-nadi-ayodhya

सूरज कुंड: सूर्य देव को समर्पित, यह कुंड अपनी प्राचीनता और धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है। यह कुंड अयोध्या से 4 किमी की दूरी पर दर्शन नगर में चौदह कोसी परिक्रमा मार्ग पर स्थित है।

Suraj-Kund-ayodhya

कुंड तथा घाट: अयोध्या में कई कुंड और घाट हैं, जैसे राज घाट, राम घाट, लक्ष्मण घाट, तुलसी घाट, स्वर्गद्वार घाट, जानकी घाट, विद्या कुंड, विभीषण कुंड, दंत धवन कुंड, सीता कुंड इत्यादि जो धार्मिक अनुष्ठानों और स्नान के लिए उपयोग किए जाते हैं।

Ghats-and-Kunds-ayodhya

गुलाब बाड़ी: मुगल काल में निर्मित, गुलाब बाड़ी एक गुलाब बगीचा है जो अपनी सुंदरता और सुगंध के लिए जाना जाता है। यहाँ गुलाब के फूलों की बहुत सी प्रजातियाँ हैं | इस बगीचे की स्थापना 1775 ईस्वी में हुई थी. बगीचे के अंदर ही शुजाऊद्दौला व उसके परिवार का मकबरा है |

Gulab-Bari-ayodhya

बहू-बेगम का मकबरा: नवाब शुजा-उद-दौला की पत्नी का मकबरा, जो अपनी भव्य वास्तुकला के लिए जाना जाता है। यह यहाँ की सबसे ऊँची इमारतों में से एक है, जब आप इसके सबसे ऊपरी भाग पर जायेंगे तो वहाँ से आप पुरे शहर को देख सकते हैं.

Bahu Begam ka Makbara

गुप्तार घाट: सरयू नदी के किनारे स्थित, यह घाट अपनी शांत और सुंदर वातावरण के लिए जाना जाता है। यह वही स्थान है जहां भगवान राम ने जल समाधि ली थी | 19वीं शताब्दी के पहले चरण में राजा दर्शन सिंह ने इसका निर्माण करवाया था |

Guptar-Ghat Ayodhya

यह अयोध्या के कुछ प्रमुख दर्शनीय स्थलों की जानकारी है। अपनी यात्रा के दौरान आप इन सभी जगहों का आनंद ले सकते हैं।

From YouTube : Tour Know
कहाँ ठहरें
  • राही टूरिस्ट बंगला (उत्तर प्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम) निकट रेलवे स्टेशन, अयोध्या
  • राही यात्री निवास (उत्तर प्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम) सरयू तट, निकट रामकथा पार्क, जनपद अयोध्या
  • होटल रामप्रस्थ निकट रामकथा संग्रहालय, अयोध्या
  • श्रीराम होटल निकट दंत धवन कुंड, अयोध्या
  • राम धाम गेस्ट हाउस रेलवे स्टेशन रोड, अयोध्या
  • राम अनुग्रह विश्राम सदन छोटी छावनी मार्ग, अयोध्या कनक भवन धर्मशाला अयोध्या
  • बिड़ला धर्मशाला निकट पुराना बस स्टेशन, अयोध्या
  • गुजरात भवन धर्मशाला निकट दंत धवन कुंड , अयोध्या
  • जैन धर्मशाला राय गंज, अयोध्या
  • जानकी महल ट्रस्ट धर्मशाला नया घाट, अयोध्या
  • पंडित बंशीधर धर्मशाला नया घाट, अयोध्या
  • रामचरितमानस ट्रस्ट धर्मशाला अयोध्या
  • दामोदर धर्मशाला सुभाष नगर, फैज़ाबाद
  • श्याम सुंदर धर्मशाला रीड गंज, फैज़ाबाद
महत्त्वपूर्ण नंबर
Police (पुलिस)100
Fire Station (अग्निशमन)101
Ambulance (एंबुलेंस)102
Railway Inquiry (रेल पूछताछ)139
Shri Ram Hospital (श्री राम अस्पताल)+91-5278-232149
Eye Hospital (आयोध्या आँख का अस्पताल)+91-5278-232828
Share this article:
Previous Post: Marks and Spencer Lucknow : लखनऊ में नए शॉपिंग स्टोर का आनंद लें

February 20, 2024 - In लखनऊ

Next Post: Gomti Nagar Railway Station : UP का पहला वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन

February 22, 2024 - In लखनऊ

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.